कुशीनगर, गोरखपुर, लखनऊ, बरेली, प्रतापगढ़, गोण्डा, गाजीपुर तथा बलिया के पर्यटन विकास की परियोजनाओं पर शीघ्र कार्य शुरू होगा -जयवीर सिंह


लखनऊ: 02 सितम्बर 2022
पर्यटन विभाग द्वारा विभिन्न जनपदों से प्राप्त पर्यटन विकास के 97 प्रस्तावों में से 18 का आंकलन तैयार कराकर स्वीकृत किये जाने की कार्यवाही पूरी कराई जा रही है। इन प्रस्तावों पर शीघ्र ही निर्णय लेते हुए विभिन्न जनपदों से प्राप्त प्रस्तावों के अनुसार पर्यटन को बढ़ावा देने वाली परियोजनाओं पर कार्य शुरू करा दिया जायेगा।
यह जानकारी पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री जयवीर सिंह ने देते हुए बताया कि कुशीनगर, गोरखपुर, लखनऊ, बरेली, प्रतापगढ़, गोण्डा, गाजीपुर तथा बलिया से संबंधित प्रस्ताव मा0 सांसद एवं विधायकों तथा संबंधित जिलाधिकारियों द्वारा प्रस्तुत किये गये हैं। जिनके लिए धनराशि का आंकलन तैयार करते हुए अग्रेतर कार्यवाही की जा रही है।
पर्यटन मंत्री ने बताया कि जनपद कुशीनगर में बुद्धाथीम पार्क के निर्माण हेतु 1941.40 लाख रूपये, गोरखपुर में स्टेट इंस्टीट्यूट आफ होटल मैनेजमेंट के निर्माण हेतु 4995.52 लाख रूपये का आंकलन तैयार कराया गया है। इसी प्रकार लखनऊ में महाराजा पासी किले पर एसईएल शो तथा पर्यटन विकास के लिए प्रस्तावित योजना हेतु 2499.15 लाख रूपये का आंकलन तैयार कराया गया है।
श्री जयवीर सिंह ने बताया कि इसी प्रकार बरेली जनपद हेतु मीरगंज के गोराघाट के निर्माण हेतु धन अवमुक्त करने एवं पर्यटन स्थल घोषित करने का प्रस्ताव मा0 विधायक डा0 डी0सी0 वर्मा द्वारा दिया गया है। इसके लिए 103.91 लाख रूपये का आंकलन तैयार करके अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। इसी प्रकार गोण्डा में श्री प्रेम नारायण पाण्डेय मा0 सदस्य के विधानसभा क्षेत्र में 84 कोसी परिक्रमा मार्ग के अंतर्गत भुवनेश्वरी मंदिर के पर्यटन विकास के लिए 157.65 लाख रूपये का आंकलन तैयार कराया गया है।
पर्यटन मंत्री ने बताया कि जनपद गांजीपुर स्थित आदर्श रामलीला समिति सरताजगंज बाजार विकास खण्ड भदौरा में रोड के निर्माण हेतु 33.12 लाख रूपये का प्रस्ताव तैयार कराया गया है तथा जनपद बलिया में मा0 परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दयाशंकर सिंह के प्रस्ताव पर बलिया स्थित नगवा में श्री मंगल पाण्डेय के स्मारक स्थल के सौन्दर्यीकरण एवं पर्यटन विकास हेतु 176.25 लाख रूपये का आंकलन तैयार कराया गया है। उन्होंने बताया कि इन विकास कार्यों को शीघ्र स्वीकृति की कार्यवाही पूर्ण कराकर निर्माण कार्य शुरू करा दिया जायेगा।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !