मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में 1,000 से अधिक जोड़ों को आशीर्वाद दिया




14 नवयुगलों को प्रमाण पत्र एवं उपहार सामग्री भेंट की

यह कार्यक्रम मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत आयोजित किया गया

वर्ष 2017 में प्रदेश में डबल इंजन की सरकार बनने पर राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना प्रारम्भ की गयी: मुख्यमंत्री

प्रदेश में अब तक लगभग 02 लाख युवतियों की शादी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सम्पन्न

जनपद गोरखपुर मंे आज विवाह पंचमी के पर्व पर 1,000 से अधिक युवक और युवतियां वैवाहिक बंधन से जुड़ रहे

प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन मेें डबल इंजन की सरकार समाज के प्रत्येक तबके के लिये पूरी ईमानदारी और प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही

प्रदेश में एक करोड़ परिवारों को वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला पेंशन और दिव्यांगजन पेंशन दी जा रही

प्रदेश और केन्द्र की सरकार इन परिवारों को एक हजार रु0 प्रतिमाह अर्थात 12,000 रु0 वार्षिक देकर उनको सबल बनाने का कार्य कर रही

प्रदेश में विकास को तेज गति से आगे बढा़ते हुए प्रत्येक नागरिक के जीवन में परिवर्तन लाने का प्रयास किया जा रहा

समाज कल्याण विभाग के माध्यम से लगातार यह प्रयास हो रहा कि प्रत्येक तबके को बिना भेदभाव शासन की योजनाओं का लाभ मिले, उसी मंशा के अनुरूप प्रधानमंत्री जी के ‘सबका साथ सबका विकास’ का मूर्त रूप सामूहिक विवाह कार्यक्रम यहां सम्पन्न हो रहा

लखनऊ: 28 नवम्बर, 2022

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी आज जनपद गोरखपुर के चम्पा देवी पार्क में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में सम्मिलित हुुए। इस अवसर पर उन्होंने 14 नवयुगलों को प्रमाण पत्र एवं उपहार सामग्री भेंट की। यह कार्यक्रम मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत आयोजित किया गया था।
मुख्यमंत्री जी ने सामूहिक विवाह समारोह में 1,000 से अधिक जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि जिन परिवारों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी, ऐसे अनेक परिवारों की कन्याएं कुंवारी रह जाती थीं। वर्ष 2017 में प्रदेश में डबल इंजन की सरकार बनने पर इस समस्या के समाधान के लिए राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना प्रारम्भ की गयी। इस योजना में पहले 31 हजार रुपये की सहायता दी जाती थी, बाद में इस राशि को बढ़ाकर 51 हजार रुपये कर दिया गया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि गरीब परिवारों की कन्याओं के विवाह के लिए मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सामूहिक विवाह के कार्यक्रम निरन्तर आयोजित किए जा रहे हैं। प्रदेश में अब तक लगभग 02 लाख युवतियों की शादी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत सम्पन्न करायी जा चुकी है। जनपद गोरखपुर में ही आज विवाह पंचमी के पर्व पर 1,000 से अधिक युवक और युवतियां वैवाहिक बंधन से जुड़ रहे हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन मेें डबल इंजन की सरकार समाज के प्रत्येक तबके के लिये पूरी ईमानदारी और प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। आज इसके परिणाम हम सभी के सामने हैं। वर्तमान में प्रदेश के अन्दर एक करोड़ ऐसे परिवार हैं, जिन्हें वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला पेंशन और दिव्यांगजन पेंशन दी जा रही है। प्रदेश और केन्द्र की सरकार इन परिवारों को एक हजार रुपये प्रतिमाह अर्थात 12,000 रुपये वार्षिक देकर उनको सबल बनाने का कार्य कर रही हैं। कोरोना कालखण्ड के दौरान प्रदेश में 15 करोड़ गरीबों को निःशुल्क राशन की सुविधा उपलब्ध करवायी गयी।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में विकास को तेज गति से आगे बढ़ाते हुए प्रत्येक नागरिक के जीवन में परिवर्तन लाने का प्रयास किया जा रहा है। समाज कल्याण विभाग के माध्यम से लगातार यह प्रयास हो रहा है कि समाज के प्रत्येक तबके को बिना भेदभाव शासन की योजनाओं का लाभ मिले। आज उसी मंशा के अनुरूप प्रधानमंत्री जी के ‘सबका साथ सबका विकास’ का मूर्त रूप सामूहिक विवाह कार्यक्रम यहां पर सम्पन्न हो रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज आप अपने वैवाहिक जीवन का संकल्प लेने के साथ ही यह भी संकल्प लेंगे कि बाल विवाह नहीं होने देंगे। दहेज मुक्त वैवाहिक कार्यक्रम को ही प्रश्रय देंगे। दहेज जैसी कुप्रथा को समाप्त करेंगे और समाज में अगर कोई कुप्रथा है, उसे दूर करने मेें सभी लोग अपना योगदान देंगे।
इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !