खेलो इण्डिया के प्रतिनिधियों ने उत्तर प्रदेश में खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 का आयोजन के संबंध में दिया प्रस्तुतीकरण

लखनऊ: 22 दिसम्बर, 2022 उत्तर प्रदेश में खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 का आयोजन अगले वर्ष अपै्रल माह के अंत में प्रस्तावित है। यूनीवर्सिटी गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी लखनऊ और क्लोजिंग सेरेमनी वाराणसी में होगी। यूनीवर्सिटी गेम्स के तहत कुल 22 खेलों का आयोजन होगा। इसमें लगभग 8000 खिलाड़ियों के भाग लेने की सम्भावना है। वाराणसी जनपद में मलखम्भ, कुश्ती एवं योगा होगा। गोरखपुर में रोइंग तथा नोएडा में कबड्डी, जूडो, बॉक्सिंग, तीरंदाजी तथा फेंसिंग प्रतियोगिताएं होगी तथा अन्य खेल प्रतियोगिताएं जनपद लखनऊ में आयोजित की जायेंगी। अपर मुख्य सचिव, खेल एवं युवा कल्याण डा0 नवनीत सहगल की अध्क्षता में आज खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 के आयोजन के संबंध में बी0बी0डी0 बैडमिंटन एकेडमी में बैठक हुई और उत्तर प्रदेश राज्य की भूमिका पर चर्चा हुई। बैठक में स्पोर्टस् अथारिटी ऑफ इण्डिया के डी0जी0 श्री संदीप प्रधान एवं खेलो इण्डिया की सीनियर डायरेक्टर सुश्री एकता विश्वानोई सहित आयोजन से जुड़े अधिकारियों ने हिस्सा लिया। खेलो इण्डिया के प्रतिनिधियों ने उत्तर प्रदेश में खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 का आयोजन के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 के सफल आयोजन हेतु प्रतिबद्ध है। प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाली टीमों के लिए ठहरने की व्यवस्था, भोजन, परिवहन एवं खेल उपकरण की खरीद हेतु समयबद्ध और रणनीति के तहत कार्य किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त प्रतियोगिताओं के आयोजन हेतु खेल मैदान के चयन एवं खेल अवस्थापना सुविधाओं को सुदृढ़ बनाया जा रहा। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद होगी। रेफरी, कोच एवं निर्णायकों की व्यवस्था हेतु खेल संघो, विश्वविद्यालयों एवं फेडरेशन से समन्वय स्थापित किया जा रहा है। खेल प्रतियोगिताओं के दौरान चिकित्सक एवं फिजियोथेरिपिस्ट की उपलब्धता सुनिश्चित रहेगी। खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 की वृहद स्तर पर ब्रांडिंग कराई जायेगी। होर्डिंग बैनर, पम्पलेट एवं मीडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पी0एम0यू0 के गठन हेतु क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी, लखनऊ को अधिकृत किया गया है। जनपद लखनऊ, गोरखपुर, वाराणसी एवं नोएडा में आयोजित खेल प्रतियोगिताओं के सफल आयोजन हेतु संबंधित जिलों के क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। ये सभी अपने मण्डल एवं जिले के आयुक्त एवं जिलाधिकारी से सम्पर्क स्थापित कर स्थानीय स्तर पर समितियां गठित कराते हुए आयोजन से जुड़ी समस्त व्यवस्थाएं पूर्ण करायेगें। डा0 सहगल ने बताया कि नेशनल यूनिवर्सिटी गेम्स में अंडर-25 खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। वूमेन्स गेम्स पर विशेष फोकस रहेगा। उत्त्र प्रदेश में इस यूनिवर्सिटी गेम्स के आयोजन से विश्वविद्यालयों में खेल का माहौल बनेगा और यहां के खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर खिलाड़ी बनने का अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि यूनिवर्सिटी में गेम्स आयोजन से विद्यार्थियों के साथ अध्यापक भी खेल से जुड़ेंगे। खेल से अनुशासन एवं आगे बढ़ने की भावना विकसित होगी, जिससे विश्वविद्यालय मंे खेल का एक नया इकोसिस्टम तैयार होगा। इस प्रकार की प्रतिस्पर्धाओं के आयोजन से प्रदेश में खेल संस्कृति को भी बढ़ावा मिलेगा। श्री संदीप प्रधान ने बताया कि एथलीट को केन्द्र में रखकर खेलो इण्डिया यूनीवर्सिटी गेम्स-2023 का आयोजन कराया जायेगा। इस बार उत्तर प्रदेश को यूनीवर्सिटी गेम्स के आयोजन का अवसर मिला है। प्रतियोगिता के सफल आयोजन से उत्तर प्रदेश का नाम पूरे देश में रोशन होगा। उन्होंने बताया कि देश के नामचीन खिलाड़ियों के प्रदेश में खेलने से यहां के खिलाड़ियों को विभिन्न खेलों में खेल की बारीकियां समझने का अवसर प्राप्त होगा, जिससे प्रदेश के खिलाड़ी भी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रदेश का नाम रोशन करेंगे। बैठक में बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय, बाबू बनारसी दास विश्वविद्यालय, गौतमबुद्ध नगर विश्वविद्यालय, दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि सहित साई संेटर लखनऊ के कार्यकारी निदेशक, श्री संजय सारस्वत सहित एवं क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !