द हेग नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने स्पोर्ट्स नेटवर्किंग के साथ मल्टी-स्पोर्ट्स सेंटर स्थापित करने के लिए 600 करोड़ के एम ओ यू पर हस्ताक्षर




लखनऊ: 17 दिसम्बर, 2022
उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य, उच्च शिक्षा एवं आईटी मंत्री श्री योगेन्द्र उपाध्याय व प्रतिनिधिमंडल के साथ गए उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन श्री नितिन रमेश गोकर्ण ,प्रमुख सचिव परिवहन श्री एल वेंकटेश्वर लू सहित  अन्य प्रतिनिधियों आदि ने नीदरलैंड में रोड शो किया और वहां पर निवेश की दृष्टि से उत्तर प्रदेश की विशेषताओं ,और महत्वपूर्ण पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए निवेश के प्रति नीदरलैंड को आमंत्रित किया द हेग नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने स्पोर्ट्स नेटवर्किंग के साथ मल्टी-स्पोर्ट्स सेंटर स्थापित करने के लिए 600 करोड़ के  एम ओ यू पर हस्ताक्षर कर एक दूसरे को सहयोग करने की सहमति व्यक्त की।


  एम्स्टर्डम, नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने मथुरा में वैलनेस सेंटर, इको टूरिज्म रिजॉर्ट तथा आईटी सेंटर स्थापित करने के लिए डच कंपनी नेटवर्किंग के साथ 100 करोड़ के एम ओ यू को साइन कर सहमति व्यक्त की। द हेग, नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश में सड़क निर्माण के लिए नई तकनीकी तथा मशीनों के प्रयोग से उत्तम सड़कें निर्माण करने हेतु सम्बंधित के साथ वार्ता कर एक दूसरे को सहयोग करने की सहमति व्यक्त की।
  एम्स्टर्डम, नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने मुजफ्फरनगर एवं गाजियाबाद में अपशिष्टों से ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए GC-BV के साथ 150 Mn Euro के MoUs को साइन कर सहमति व्यक्त की। साथ ही कंपनी को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 में प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित भी किया।
  उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने एम्स्टर्डम में कैबिनेट मंत्री श्री योगेंद्र उपाध्याय नीदरलैंड्स की भारतीय राजदूत श्रीमती रीनत संधू तथा उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ डच व्यवसायी समुदाय को उत्तर प्रदेश में आने और निवेश करने और उन सभी क्षेत्रों में सहयोग करने के लिए आमंत्रित किया। नीदरलैंड अपनी तकनीकी प्रगति के माध्यम से कृषि, बागवानी और खाद्य प्रसंस्करण में अनेक कीर्तिमान स्थापित किए हैं।
इसके अलावा शुक्रवार को उट्रेच, नीदरलैंड्स में उत्तर प्रदेश सरकार तथा PaquesBalk के बीच MoUs साइन किए। इस MoUs के माध्यम से उत्तर प्रदेश में पांच जैविक अपशिष्ट जल उपचार संयंत्रों और बायोगैस उपचार संयंत्रों की स्थापना के लिए डच कंपनी से 450 करोड़ रुपये का निवेश करने की चर्चा हुई।


आज रोड शो के बाद उपमुख्यमंत्री ने भारत और उत्तर प्रदेश की तरफ से नीदरलैंड में अप्रवासी भारतीयों तथा नीदरलैंड मूल के लोगों को आने वाले नए साल की, क्रिसमस डे व मकर संक्रांति की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर है और बढ़ते हुए भारत के साथ उत्तर प्रदेश में में भी  श्री योगी जी के नेतृत्व में  प्रदेश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने भारत और नीदरलैंड के बारे  पूर्व के व्यापारिक रिश्ता, साझेदारी के बारे में भी विस्तार से प्रकाश डाला। और कहा भारत से नीदरलैंड के व्यापार और आयात निर्यात की दृष्टि से चौथा देश है और हमारे संबंधों में प्रगाढ़ता लगातार बढ़ रही है ।यहां पर काफी संख्या में अप्रवासी भारतीय हैं और उसमें भी सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश और बिहार से हैं ।भारत में बड़ी मात्रा में डच कंपनियां काम कर रही हैं ।उन्होंने नीदरलैंड सरकार को आश्वस्त किया कि आपका निवेश सुरक्षित रहेगा। भारत में सबसे बड़ा आबादी की दृष्टि से उत्तर प्रदेश है और उभरता हुआ प्रदेश है उत्तर प्रदेश के प्रति लोगों में आकर्षण बढ़ा है ।भारत को 5ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा गया है ,जिसमें 01ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य उत्तर प्रदेश लेकर चल रहा है। उत्तर प्रदेश में कोई भी उत्पाद तैयार किया जाएगा तो उसके लिए उपभोक्ताओं की कोई कमी नहीं है ।हर क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में अपार संभावनाएं हैं ।यहां पर फूड, ऑटो ,इलेक्ट्रिक, डेरी ,कृषि उपकरण, रोड,जल प्रबंधन, डेरी ,पर्यटन  आदि में निवेश की बहुत ज्यादा संभावनाएं हैं ।उन्होंने कहा कि हिंदू मान्यता के अनुसार प्रमुख तीर्थ स्थल जैसे अयोध्या, मथुरा ,काशी प्रयागराज उत्तर प्रदेश में ही हैं । निवेश करने में किसी प्रकार की समस्या नहीं आएगी ।कृषि आबादी वाला बड़ा क्षेत्र है ।17 नगर निगम है नगर निगम में भी डेवलपमेंट तेजी से हो रहा है लेकिन उसमें और तकनीकी की आवश्यकता है । उन्होंने कहा कि भारत में गुजरात का विकास  और नीदरलैंड का विकास एक जैसा है कहा कि भारत में दो डिफेंस कॉरिडोर है जिसमें एक उत्तर प्रदेश में है । एक्सप्रेसवे हैं ,एक्सप्रेस वे के किनारे व हाईवे के किनारे औद्योगिक पार्क विकसित करने की हमारी योजना है। लॉजिस्टिक हब  है।और सरकार का मकसद सब तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराना है ।यहां पर एयर कनेक्टिविटी, रोड कनेक्टिविटी ,रेल कनेक्टिविटी डेडीकेटेड इंडस्ट्रियल कॉरिडोर जलमार्ग आदि सभी की पर्याप्त व्यवस्था है। हम उत्तर प्रदेश को एक नए स्वरूप में खड़ा करना चाहते हैं। निवेश के लिए एक पोर्टल भी बना है।ऑनलाइन प्रोत्साहन प्रबंधन प्रणाली का भी व्यवस्था की गई है जिस पर ऑनलाइन भी निवेश की संभावनाओं को देखा जा सकता है ।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर