मिल्ली फाउंडेशन ने गरीबों को ठंड से बचाने के लिए क्राइस्ट चर्च कॉलेज में लगाया कैंप , जरुरतमंदों के लिए बड़े पैमाने पर लोगो ने किया गर्म कपड़े दान




लखनऊ।18दिसंबर मशहूर संस्था मिल्ली फाउंडेशन के तत्वाधान में क्राइस्ट चर्च कॉलेज हजरतगंज लखनऊ में हर साल की तरह इस साल भी समाज के गरीब, बेसहारा, कमजोरों को ठंड से बचाने के लिए गर्म कपड़े जमा करने के लिए कैंप का आयोजन किया गया। 

कैंप में क्राइस्ट चर्च कॉलेज के प्रिंसिपल श्री आर0के0 चत्री और छात्रों ने बड़ी संख्या में गर्म कपड़े दान किए। इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष सलाहउद्दीन (शीबू) ऐडवोकेट ने कहा कि अल्लाह ने किसी को भी हैसियतदार बनाया है तो उस की यह इन्सानी जिम्मेदारी है कि वह समाज के जरूरतमंदों की हर संभव मदद करे।संस्था लगातार इस तरफ प्रयास कर रही है कि तमाम ऐसे संभ्रांत नागरिक जिन्हें अल्लाह ने हैसियत दी है उनसे नए, पुराने गर्म कपड़े लेकर समाज के गरीब और कमजोर लोगों तक पहुँचाकर उन्हें इस ठंड में बीमार होने से और ठंड के कारण मरने से बचाने में अपनी अहेम भूमिका निभाएं।

उन्होंने कहा कि माशा अल्लाह हर साल इस कैंप में दान करने वालों की तादाद बढ़ रही है और हम ज्यादा से ज्यादा लोगों तक गर्म कपड़े पहुंचाने में सफल हो रहे हैं। उन्होंने तमाम धर्मगुरूओं और समाजी सेवकों, बुद्धजीवियों और अल्लाह की राह में मदद करने वालों को धन्यवाद दिया जो हर साल बढ़ चढ़ कर इस कैंप में बड़ी संख्या में गर्म कपड़े देते हैं।

कैंप में हजरत मौलाना मुफ्ती अबुल इरफान मियां फिरंगी महली, टीले वाली मस्जिद के इमाम हजरत मौलाना फजलुल मन्नान रहमानी, हजरत मौलाना कल्बे सिब्तैन नूरी, सय्यद आरिफ मियां नक्शबंदी, फखरूद्दीन अली अहमद कमेटी के चेयरमैन तुरज जैदी, मुुरलीधर आहूजा, विशेश सचिव  विधान सभा अशोक कुमार, निगहत खान, वसीम हैदर, अरशद आजमी, पत्रकार एसोसिएशन के महामंत्री अब्दुल वहीद, सचिव जुबैर अहमद,उपाध्यक्ष शहज़ादे कलीम,अजीज सिद्दीकी, वामिक खान, मोसेस परमार, अरशद, अली सिद्दीकी, सय्यद अफजाल ऐडवोकेट, शहजादे कलीम, डाक्टर सुलतान शाकिर हाश्मी, मोहम्मद राशिद, नजम अहसन, परवेज अख़तर, अब्दुल नसीर नासिर, डी0 आर0 वाधवानी, कुदरत खान, नूर आलम, मुर्तजा अली, गुले राना सईद, नाजरीन गुलनाज, सुरेश पांडे ऐडवोकेट, विभूति नरायन पांडे ऐडवोकेट, आरिफ़ मुकीम,एहसान रईस,विनोद सोनकर, डा0 फरीद खान आदि ने बड़ी तादाद में गर्म कपड़े दान किये। कैंप के अंत पर संस्था के उपाध्यक्ष अनवर आलम ने सभी अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर