जनता तक जो भी सूचना जाए वह अनिवार्य रूप से हिंदी अथवा द्विभाषी हो-अनुपम शर्मा

. हाजीपुर पूर्व मध्य रेल, मुख्यालय/हाजीपुर द्वारा क्षेत्रीय रेल राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 76वीं बैठक श्री अनुपम शर्मा, महाप्रबंधक की अध्यक्षता में आयोजित की गई. बैठक की अध्यक्षता करते हुए श्री शर्मा ने राजभाषा प्रचार-प्रसार की गहन समीक्षा की और कहा कि पूर्व मध्य रेल पर राजभाषा हिंदी का प्रयोग-प्रसार संतोषप्रद है तथापि कई और कार्य किए जाने हैं. पूर्व मध्य रेल “क” क्षेत्र में आता है और हम सभी हिंदी भाषा की जानकारी रखते हैं. आप सभी इस तथ्य से भी अवगत होंगे कि हिंदी हमारी बोलचाल की भाषा तो है ही,देश को संपर्क सूत्र में जोड़ने वाली हमारी राजभाषा भी है. भाषा का विकास और उसका विकास एक गंभीर कार्य है और यह केवल आदेश-निर्देश के बल पर ही संभव नहीं है,अपितु हम सभी को सरकारी दायित्व के साथ-साथ एक नागरिक के रूप में अपने राष्ट्रीय दायित्व का निर्वहन करना होगा. रेल एक वाणिज्यिक प्रतिष्ठान है और इस देश की आम जनता से जुड़ने के लिए हमें उनकी भाषा में संवाद करना होगा. इस प्रकार हम समझ सकते हैं कि हिंदी का प्रयोग संवैधानिक अनिवार्यता, राष्ट्रीय कर्तव्य के साथ-साथ हमारी जरूरत भी है. श्री शर्मा का कहना था कि रेलवे में कोई भी कार्य अंतिम पायदान के व्यक्ति को ध्यान में रख के करना चाहिए, क्योंकि एक सामान्य स्तर का रेलकर्मी भी हमारे लिए महत्वपूर्ण है. उन्होंने निर्देश दिया कि जनता तक जो भी सूचना जाए वह अनिवार्य रूप से हिंदी अथवा द्विभाषी हो. इस अवसर पर राजभाषा में उत्कृष्ठ कार्य करने के लिए भंडार विभाग को महाप्रबंधक द्वारा अंतर्विभागीय राजभाषा चल शील्ड प्रदान किया गया. इसे डी.के.श्रीवास्तव, प्रधान मुख्य सामग्री प्रबंधक ने प्राप्त किया. श्री शर्मा ने इस अवसर पर क्षेत्रीय हिंदी प्रतियोगिता के सफल प्रतिभागियों को नकद पुरस्कार व प्रमाण-पत्र प्रदान किया. इस बैठक में अपर महाप्रबंधक श्री तरुण प्रकाश ने कहा कि हमारा दायित्व है कि राजभाषा नीति के अनुरूप हम धारा 3(3) के अंतर्गत आने वाले सभी दस्तावेजों को द्विभाषी रूप में जारी करें, मूल पत्राचार में हिंदी का शत-प्रतिशत प्रयोग सुनिश्चित करें. उन्होंने समिति को 14 सितंबर से लेकर 29 सितंबर तक राजभाषा पखवाड़ा-2022 के अवसर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं व कार्यक्रमों की जानकारी दी. उल्लेखनीय है कि यह बैठक सितंबर-2022 को समाप्त तिमाही की समीक्षा करने के लिए आयोजित थी. राजभाषा प्रयोग-प्रसार के इस महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक में पूर्व मध्य रेल के अंतर्गत मंडलों, कारखानों आदि के उच्च अधिकारी उपस्थित थे, उन्होंने अपने विभागों, मंडलों आदि में राजभाषा के प्रचार-प्रसार की स्थिति के संबंध में समिति को सूचित किया. बैठक का संचालन करते हुए उप मुख्य राजभाषा अधिकारी श्री संकल्प नारायण सिंह ने समिति को पिछली बैठक में लिए गए प्रमुख निर्णयों/सिफारिशों पर की गई कार्रवाई का विवरण प्रस्तुत किया एवं साथ ही रेलवे बोर्ड द्वारा निर्धारित वार्षिक कार्यक्रम से संबंधित मदों की अद्यतन स्थिति से अवगत कराया. बैठक में धन्यवाद ज्ञापन श्री अनिल कुमार शर्मा, राजभाषा अधिकारी ने किया.

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर