ब्राह्मणों की अस्मिता को भाजपा सरकार चोट नही पहुचने देगी :- प. सुनील भराला


JNU नारों के दोषी के ऊपर 15 दिन के अन्दर हो कार्यवाही अन्यथा होगा उग्र प्रदर्शन:- प. अजय भारद्वाज 


राष्ट्रविरोधी कार्य करने वालों पर निरंतर कार्यवाही करने को तैयार परशुराम स्वाभिमान सेना:- प. मुकेश भार्गव


   नई दिल्ली:- राष्ट्रीय परशुराम परिषद की युवा शाखा परशुराम स्वाभिमान सेना द्वारा जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय (JNU) के दीवारों पर  लिखी गयी आपत्तिजनक / उत्तेजित नारे “ब्राहमण भारत छोड़ो”  आदि के विरोध में प्रदर्शन किया गया | प्रदर्शन के उपरांत परशुराम स्वाभिमान सेना का एक प्रतिनिधि मंडल ने श्री धर्मेन्द्र प्रधान जी कैबिनेट मंत्री भारत सरकार के आवास पर ज्ञापन दिया गया | 




  राष्ट्रीय परशुराम परिषद के संस्थापक संरक्षक माननीय प. श्री सुनील भराला जी नि. अध्यक्ष / राज्यमंत्री श्रम कल्याण परिषद उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा कि JNU की दीवारों पर “ब्राह्मण बनिये भारत छोडो” लिखकर समस्त हिन्दू समाज को ललकारा गया है | राष्ट्रविरोधी तत्त्वों द्वारा किये गये ऐसे कार्यो से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि वह ब्रह्मण समाज से खौफ में है और पूरी तरह भयभीत भी है | जब ब्रह्मणों के खिलाफ मुगल शासको का अत्याचार अपने चरम पर था काफी हिन्दू उनके प्रताड़ना से धर्म परिवर्तनं करने को मजबूर हो गये थे तब ब्राह्मण समाज ने मुग़ल के खिलाफ विद्रोह का बिगुल फूका था | वर्तमान समय में कुछ राष्ट्रविरोधी तत्वों के अन्दर वही मुग़ल वाली शक्ति उभर रही है जिससे इनके द्वारा “ब्राह्मण बनिये भारत छोडो” जैसे नारे JNU के दीवारों पर लिखे जा रहे है | परशुराम स्वाभिमान सेना द्वारा ऐसे राष्ट्रविरोधी तत्वों को मुहतोड़ जवाब देना होगा | भाजपा सरकार सभी जाति समाज धर्म को साथ लेकर चलती है, ब्राह्मण समाज समस्त हिन्दुओ की रक्षा करता है,मै आश्वासन देता हूँ की भाजपा सरकार ऐसे असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही कराएगी, ब्राह्मणों की अस्मिता को भाजपा सरकार चोट नही पहुचने देगी |


प. अजय भारद्वाज जी राष्ट्रीय अध्यक्ष परशुराम स्वाभिमान सेना ने अपने संबोधन में कहा कि विगत दिनों JNU के दीवारों पर असामाजिक तत्वों द्वारा जो ब्राहमण भारत छोडो के नारे लिखे गये है उससे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि JNU राष्ट्रविरोधी तत्वों का केंद्र बन चुका है | 2 दिसंबर को घटित हुए घटना को आज 13 दिन हो गये है परन्तु अभीतक प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही नही की गयी | JNU के कुलपति द्वारा भी कोई कार्यवाही न किया जाना यह दर्शाता है कि कही न कही विश्वविद्यालय प्रशाशन भी ऐसे लोगो के साथ में है | श्री भारद्वाज जी ने स्पष्ट रूप से बोलते हुए कहा कि तत्काल प्रभाव से ऐसे असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर उनके ऊपर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जाय, यह कार्यवाही 15 दिवस के भीतर होनी चाहिए अन्यथा परशुराम स्वाभिमान सेना और विशाल उग्र प्रदर्शन करने को मजबूर होगा | 






  श्रीमती नीलम पाण्डेय जी प्रदेश महामंत्री दिल्ली परशुराम शक्ति वाहिनी ने अपने संबोधन में कहा कि JNU में लिखे गये ब्राह्मण ब्राह्मण भारत छोडो नारों के विरोध में अब सनातनी महिलाये बेटियां इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा ले रही है | शक्ति वाहिनी की तरफ से सरकार एवं प्रशासन से यही मांग है कि जल्द से जल्द दोषियों को गिरिफ्तार कर जेल में डाला जाये | 

  प. मुकेश भार्गव जी राष्ट्रीय संयोजक श्री परशुराम कुंड तीर्थ यात्रा राष्ट्रीय परशुराम परिषद ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रीय परशुराम परिषद के युवा इकाई परशुराम स्वाभिमान सेना द्वारा जो बिगुल फूका गया है उसके लिए मै उन्हें बधाई देता हूँ | मेरा विश्वाश है कि परशुराम स्वाभिमान सेना निरंतर अपनी नजर देश के ऐसे गद्दारों पर बनाये रखेगा और उन्हें सरकारी कानूनों के माध्यम से सजा दिलवाने का काम करेगा | 

  प. प्रशांत वत्स जी दिल्ली प्रदेश संयोजक परशुराम स्वाभिमान सेना ने बताया कि विगत दिनों JNU में हुए घटना को लेकर के उत्तर प्रदेश / हरियाणा / मध्यप्रदेश / दिल्ली आदि प्रदेश में ऐसे अराजक और विघटनकारी तत्वों के पुतले फूके गये और विभिन्न थानों पर FIR भी दर्ज कराई गयी परन्तु अभीतक पुलिस प्रशासन एवं JNU के कुलपति द्वारा ऐसे राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ कोई कदम नही उठाया गया | आज यह धरना आयोजित करने का मुख्य उद्द्येश्य यह है कि अगर प्रशासन समय रहते हुए दोषियों की गिरिफ्तार नहीं करेगी तो ब्राह्मण समाज अपनी अस्मिता को बचाने के लिए सड़कों पर उतर के उग्र आन्दोलन करने को मजबूर हो जायेगा |  

  प्रदर्शन में मुख्यरूप से श्री अनुज शर्मा जी राष्ट्रीय संयोजक आई.टी. प्रकोष्ठ, श्री सुरेश कौशिक जी प्रदेश अध्यक्ष हरियाणा राष्ट्रीय परशुराम परिषद, श्री गोविंद अवस्थी राष्ट्रीय अध्यक्ष  ब्राह्मण महासंघ श्री पुष्कल  तिवारी राष्ट्रीय अध्यक्ष पत्रकार संघ  श्री रघुवीर शर्मा जी पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिल्ली राष्ट्रीय परशुराम परिषद, श्री राजेश शर्मा जी प्रदेश अध्यक्ष उत्तर प्रदेश परशुराम स्वाभिमान सेना, श्रीमती नीलम पाण्डेय जी प्रदेश महामंत्री परशुराम शक्ति वाहिनी, श्रीमती श्री पुनीत वशिष्ठ जी क्षेत्रीय अध्यक्ष मेरठ राष्ट्रीय परशुराम परिषद, श्री राकेश शर्मा जी क्षेत्रीय उपाध्यक्ष मेरठ, श्रीमती पूनम शर्मा जी क्षेत्रीय उपाध्यक्ष मेरठ पश्चिम, श्री विनोद शर्मा जी सदस्य प्रदेश कार्यकारिणी राष्ट्रीय परशुराम परिषद, श्री सुनील शर्मा जी जिलाध्यक्ष गौतमबुद्ध नगर, श्री कपिल पंडित जी जिलाध्यक्ष बागपत परशुराम स्वाभिमान सेना, श्री भीम शर्मा जी जिला उपाध्यक्ष गजियाबाद,  श्री गगन शर्मा जी सहित हजारो की संख्या में परशुराम स्वाभिमान सेना के पदाधिकारी / कार्यकर्ता उपस्थित रहे |



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर