पूर्व राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी का 88 वर्ष की उम्र में निधन,हर क्षेत्र में ऊंचाई पर पहुंचे थे मेरे मित्र केशरीनाथ -राम नाईक

बंगाल के पूर्व राज्यपाल और वरिष्ठ भाजपा नेता पूर्व विधानसभा अध्यक्ष के पूर्व अध्यक्ष पंडित केशरीनाथ त्रिपाठी का आज सुबह पांच बजे यहां निधन हो गया। वह 88 साल के थे। कुछ दिन पहले ही उन्हें सांस में दिक्कत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्वास्थ्य में सुधार होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। बिहार, मेघालय और मिजोरम राज्यों के गवर्नर का भी अतिरिक्त प्रभार रहा है ।पंडित केशरीनाथ त्रिपाठी 3 बार यूपी विधानसभा के अध्यक्ष और यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भी रह है।श्री केसरी नाथ त्रिपाठी का जन्म 10 नवंबर 1934 को हुआ था। कवि के रूप में साहित्य जगत में अपनी अलग पहचान रखते थे।
हर क्षेत्र में ऊंचाई पर पहुंचे थे मेरे मित्र केशरीनाथ -राम नाईक
“जिस क्षेत्र में कदम रखें वहां ऊंचाई पर पहुंचे थे मेरे मित्र श्री केशरीनाथ त्रिपाठी! उत्तर प्रदेश ने एक बहुमुखी प्रतिभासंपन्न व्यक्तित्व खोया है”, इन शब्दों में उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल श्री राम नाईक ने उत्तर प्रदेश के कद्दावार नेता व पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्य्पाल श्री केशरीनाथ त्रिपाठी के निधन पर शोक जताया. पूर्व राज्यपाल श्री राम नाईक ने कहा, “कई पुराने सहयोगी मित्रों से उत्तर प्रदेश का राज्यपाल बनने पर मेरी मित्रता और भी अधिक गहरी बनीं उसमें सर्वोच्च थे श्री केशरीनाथ त्रिपाठी. जब भी वें पश्चिम बंगाल से अपने घर प्रयागराज जाने के लिए लखनऊ आते तो मुझसे मिले बगैर वह नहीं जाते थे. मुझे याद है आज भी वह दिन जब महाकुम्भ आयोजन कि पहली बैठक में अलाहाबाद को अपने मूल नाम प्रयागराज से ही संबोधित करने के मेरा सुझाव तुरंत स्वीकारने का फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने किया तब श्री केशरीनाथ जी ने दूरभाष कर अत्यंत हर्षोल्हास से मुझे धन्यवाद दिए.” पूर्व राज्यपाल श्री राम नाईक ने अंत में कहा, “ हर क्षेत्र में अव्वल थे केशरीनाथ जी! वकील बने तो

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !