बुन्देलखण्ड की बेटी डा सुरभि को पुणे में मिला आदर्श युवा विधायक का पुरस्कार



लखनऊ। पुणे में आयोजित 13वीं भारतीय छात्र संसद के तीन दिवसीय आयोजन में उत्तर प्रदेश विधानसभा को एक बार फिर गौरव हासिल हुआ है। अपना दल (एस) की विधायक डा सुरभि को आदर्श युवा विधायक का पुरस्कार मिला है। इस सम्मान के लिए विधायक डा सुरभि ने अपने क्षेत्र के लोगों और विधानसभा अध्यक्ष श्री सतीश महाना के प्रति अपना आभार व्यक्त किया है। 


इस मौके पर डा सुरभि ने कहा कि युवाओं को आगे लाने के इस तरह के आयोजन से युवाओं को आगे आने के अवसर मिलते हैं। यह प्रयास उसी तरह का है जिस तरह से उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना कर रहे हैं। युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानन्द की जयन्ती (राष्ट्रीय युवा दिवस) के इस अवसर पर यह पुरस्कार पाकर मन अभिभूत है। पुरस्कार द्रोपदी की नगरी कायमगंज की जनता को समर्पित करना चाहती हूं। जिसका यदि प्रेम न मिलता तो यह हमें यह मंच न मिलता। उन्होंने युवा पीढ़ी खासतौर पर महिला युवा पीढ़ी को संदेश देते हुए कहा,‘‘हौसले बुलंद कर राह पर चलते रहंे, मंजिले अपने आप बन जाएगीं बढकर तू आगे तू पहल कर, देख कर तुझको काफिला खुद ब खुद बन जाएगा।’’ 


उल्लेखनीय है कि भारतीय छात्र फाउन्डेशन,एमआईटी स्कूल आफ गवर्नमेंट और एमआईटी वर्ल्ड पीस यूनिवर्सिटी पुणे द्वारा हर साल इस छात्र संसद का आयोजन किया जाता है। भारतीय छात्र संसद में 29 राज्यों के 450 विश्वविद्यालयों के 30 हजार विद्यार्थी भाग लेते हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन 10 से 12 जनवरी तक किया गया जिसमें राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर डा सुरभि को यह पुरस्कार दिया गया।बुन्देलखन्ड की बेटी जालौन जनपद में जन्मी डा सुरभि को पुणे में आदर्श युवा विधायक का पुरस्कार मिलने पर   बुन्देलखण्ड सांस्कृतिक एवं सामाजिक सहयोग परिषद  के उपाध्यक्ष ने परिषद की ओर से बधाई दी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,