डा० सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी 'पथिक'






                                     

                                             डा० सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी 'पथिक'





डा० सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी 'पथिक' -पत्नी :श्रीमती अंजली द्विवेदी,








सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी ‘पथिक

जन्म तिथि:6 दिसम्बर, सन् 1953 (संवत 2010)

शिक्षा: बी०ए०, पी-एच०डी०हिन्दी ल०वि०वि० लखनऊ

माता:स्मृतिशेष गया देई द्विवेदी, पिता-यशः शेष पं० दामोदर प्रसाद द्विवेदी 

पत्नी :श्रीमती अंजली द्विवेदी, एम०ए०बी०एड००वि०वि०

पुत्र गण :अलिंद द्विवेदी, मिलिंद द्विवेदी, पुत्री : नेहा तिवारी

सम्प्रति:अवकाश प्राप्त प्रधानाचार्य ।

निवासी-स्थाई : ग्रा० दुबौली, पो० गौसपुर, जिला बस्ती (उ0प्र0)

वर्तमान:114, इन्द्रपुरी, मानसनगर आलमबाग, लखनऊ-226023


प्रकाशित कृतियाँ


प्रकाशित कृतियाँ: गीतगंध, छंद मंजरी, छंद-छटा, अर्थापकर्ष, एकदा नैमिषारण्ये, अभी उड़ान शेष, उठो चलो, बैरिड राम बड़ाई करहीं, सरयूशतक (खण्ड काव्य), भारतीयम (महाकव्य), मख क्षेत्रे मनोरमा (महाकाव्य), मौन का संवाद, चुप्पी टूट गयी, लक्ष्मण रेखा याद रहे, फुलवा खिलड़ रितु पाई, त्याग का भाव ही प्यार है, च्यवन चरित (महाकाव्य)सरयू से सियेन तक ( यात्रा कथा), श्रवणचरित (महाकाव्य) कुल बीस कृतियां प्रकाशित

1. व्यक्तित्व-कृतित्व पर आर.एम.पी. पी.जी. कालेज सीतापुर (उ0प्र0) से सम्बद्ध का०वि०वि० लघु शोध, 2014, 2. उ0प्र0 हिन्दी संस्थान से जयशंकर प्रसाद नामित पुरस्कार,राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान, उत्तर प्रदेश--साहित्य गौरव पुरस्कार--5001/। 3. कादम्बरी जबलपुर से 'भारतीयम् महाकाव्य' पुरस्कृत। 4. विभिन्न संस्थाओं से शताधिक सम्मान पुरस्कार।


5. डॉ0 सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी 'पथिक' और उनके महाकाव्य, लघुशोध प्रबंध दयानंद पी०जी० कालेज बछरावा, रायबरेली , सम्बद्ध ल०वि०वि०, 2023,लघु शोध संख्या- रंजना कुमारी- 2024 विषय 'डॉ० सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी के काव्य में चिंतन के विविध आयाम"- दयानंद पी०जी०कालेज बछरावां सम्बद्ध लखनऊ विश्वविद्यालय,







इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,