संदेश

संविधान सुरक्षा आंदोलन ने हमारे संवैधानिक मूल्यों को बचाने के अपने चल रहे प्रयासों के तहत राज्य सम्मेलन का आयोजन

चित्र
  संविधान सुरक्षा आंदोलन ने हमारे संवैधानिक मूल्यों को बचाने के अपने चल रहे प्रयासों के तहत 2 जुलाई, 2022 को हॉटल मेज़बान में एक राज्य सम्मेलन का आयोजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता ओबैदुल्ला खान आज़मी पूर्व सांसद, संविधान सुरशा आंदोलन राष्ट्रीय सचिव मोहम्मद शफी ने के नोट स्पीच प्रस्तुत की। बाबर नकवी ने मेहमानों और प्रतिनिधियों का स्वागत किया, लालमणि प्रसाद पूर्व सांसद, मौलाना सैफ अब्बास, राजरतन अम्बेडकर, परवेज आलम भुट्टो, भिच्छू सुमित्रत्न खेड़ा, राम धीरज, धनंजय शारना, हुस्न ए आरा खातून ने भाग लिया और अपने भाषणों को वितरित किया। इस अवसर पर मौलाना ओबैदुल्लाह खान आजमी ने विधान सुरक्षा आंदोलन मध्य यूपी की एक तदर्थ समिति की घोषणा की, जिसमें लालमणि प्रसाद पूर्व. एमपी के पूर्व मंत्री यूपी, परवेज आलम भुट्टो, जावेद अहमद, मुईद हाशमी, भिक्छु सुमित रतन खेरा, हुस्न ए आरा, राम धीरज और मैग्मा हाशमी शामिल हैं।

सदर विधायक से महिला शिक्षक संघ ने की शिष्टाचार भेंट

महिला शिक्षकों की समस्याओं के बारे में कराया अवगत, मिला आश्वासन ललितपुर। उत्तर प्रदेश महिला शिक्षक संघ की जिला इकाई ने सदर विधायक रामरतन कुशवाहा से शिष्टाचार मुलाकात की। इस दौरान महिला शिक्षकों ने सदर विधायक को अपना परिचय दिया । साथ ही सरकार द्वारा शिक्षा विभाग द्वारा चलायी जा रहीं योजनाओं के बारे में चर्चा की गयी। जिलाध्यक्षा नीलम जैन एवं महामंत्री अंजुलता कुशवाहा ने सदर विधायक से शिक्षिकाओं को आने वाली समस्याओं के बारे अवगत कराया। महिलाओं के प्रसव काल के दौरान वेतन न काटने, चिकित्सीय अवकाश एवं बाल्य काल के दौरान देखभाल संबंधी अवकाश दिलाने जैसी अनेक समस्याओं के बारे में अवगत कराया गया। उन्होंने शिक्षिकाओं की समस्याओं को सुनकर निस्तारण का आश्वासन दिया। तत्पश्चात उत्तर प्रदेश महिला शिक्षक संघ ने सदर विधायक का आभार व्यक्त किया। इस दौरान आरती कुशवाहा, रितु रिछारिया, छाया यादव, सुनीता श्रीवास्तव, मीनाक्षी राजपूत, मृदुला साहू, कमलेश राठौर, बबीता रिछारिया, दीप्ति त्रिपाठी, इंद्रा कुशवाहा, शालिनी साहू आदि मौजूद रहीं।

उपेक्षित न रखा जाये देवगढ़ की प्रख्यात धरोहर

चित्र
पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कर किया जाये विकास कार्य जाखलौन। जनपद ललितपुर के सबसे महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों में से एक देवगढ़ अपनी उपेक्षा का शिकार होकर गुप्त काल का महत्वपूर्ण साक्षी होने के बाद भी अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है। इसके नजदीक स्थित चांदपुर का प्राचीन तालाब और जंगल में मूर्तिकला के नायाब नमूने जो आज भी पर्यटकों को बरबस आकर्षित कर लेते हैं। उपेक्षा का शिकार होकर ना तो पर्यटकों को आकर्षित कर रहे हैं और ना ही उनका पर्याप्त संरक्षण हो पा रहा है। पूरे विश्व में मशहूर गुप्त काल के स्वर्णिम काल का साक्षी दशावतार मंदिर आज अपनी उपेक्षा, मूर्तियां का देखरेख के अभाव में क्षरण होना शुरू हो गई है। यदि ठीक से इनका रखरखाव नहीं किया गया तो इन के नष्ट होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। बताते चलें दशावतार मंदिर परिसर में संग्रहालय भी बना हुआ है जिसमें प्राचीन मूर्ति कला की अद्भुत मूर्तियां संग्रहालय में संरक्षित करके रखी गई हैं। परंतु दर्शकों के लिए इस संग्रहालय को कभी नहीं खोला जाता।  यद्यपि पर्यटकों को जाने के लिए 25 का टिकट लेना पड़ता है, परंतु उन्हें संग्रहालय नहीं खोला जाता। ऐसा प्रतीत ह

'नॉस्टैल्जिया' चित्र श्रृंखला की प्रदर्शनी - 02 – 05 जुलाई कला स्रोत आर्ट गैलरी, लखनऊ में होगा आयोजन

चित्र
श्रीमती मानसी डिडवानिया और श्री अनुराग डिडवानिया क्यूरेटर और वरिष्ठ कलाकार अवधेश मिश्र होंगे मुख्य अतिथि  प्रदशनी में दिखेगा बचपन और गंवई जन जीवन   सुमित कुमार की 'नॉस्टैल्जिया' चित्र श्रृंखला 'नॉस्टैल्जिया' के अर्थ और सरोकार व्यापक हैं। जिए हुए समय और मनोदशा में बारम्बार लौटना नॉस्टैल्जिया है। प्रत्येक व्यक्ति के जीवन का एक महत्वपूर्ण समय होता है बालपन और किशोरवय, जहाँ दुनिया देखने की जिज्ञासा और वहाँ स्वयं की उपस्थिति का बहुविधि प्रयास होता है। इसके साथ अपनी स्वाभाविक गतिविधियों और परिवेश से जुडी संवेदनाओं और स्मृतियों का पिटारा लेकर व्यक्ति अपना वजूद गढ़ता है। ये अनुभूतियों और स्मृतियाँ अविस्मरणीय होती हैं जहाँ व्यक्ति बार-बार जाना और उसे जीना चाहता है। ये अनुभव व्यक्ति के जीवन में परिस्थितिवश आयी नकारात्मकता और अवसाद को तो कम करते ही हैं, उसे रचनात्मक बनाते हैं, आगे बढ़ने का रास्ता दिखाते हैं और अदम्य इच्छाशक्ति के साथ ही एक अक्षुण ऊर्जा भी देते हैं।  ये अविस्मरणीय पल और अनुभूतियाँ अनेक रचनाकारों की कालजयी रचनाओं का विषय-वस्तु बनी हैं। बालपन और किशोरवय की जिज्ञासाओं

Dr Darakhshan Andrabi takes stock of Urs celebrations at Khankah-e-Maula in Srinagar

चित्र
Chairperson of J&K Waqf Board Dr Darakhshan Andrabi today morning visited the spiritual shrine of Khankah-e-Maula in Srinagar and took stock of the Annual Urs arrangements of J&K Waqf Board, District Administration & other government agencies. She was accompanied by the Chief Executive Officer of Waqf Board DR Syed Maajid Jahangir, Tehsildar of Waqf Board Ishtiaq Mohiuddin and the administrator of the shrine in addition to the representatives of different departments. She interacted with representatives of different departments, Shrine management Committee and the Waqf authorities and instructed them to create a co-ordinated mechanism of working so that every pilgrim visiting the shrine during the Urs celebrations gets all the facilities and the sanctity of the shrine is maintained at all costs. Dr Andrabi thanked the representatives of different government departments for their cooperation to the Waqf management for putting in place all necessary arrangements well in time.

यात्रियों को उपलब्ध हो मूलभूत सुविधायें - दयाशंकर सिंह

चित्र
  परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने वेबिनार के माध्यम से विभागीय अधिकारियों को दिये निर्देश एकमुश्त दंड समाधान योजना का कराये प्रचार-प्रसार डी0एल0 बनवाने में किसी को भी परेशानी न हो, अधिकारी रखें इसका ध्यान समन्वय बनाकर अवैध बस स्टेशनों, अनधिकृत वाहनों के खिलाफ जारी रखे प्रवर्तन की कार्यवाही वृक्षारोपण 2022-23 के लक्ष्य प्राप्ति हेतु बनाये कार्ययोजना लखनऊ: 01 जुलाई, 2022 उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दयाशंकर सिंह लखनऊ के अलीगंज स्थित उपाम (प्रशासनिक प्रशिक्षण अकादमी) में वेबिनार के माध्यम से परिवहन विभाग एवं परिवहन निगम के अधिकारियों के साथ विभाग के विभिन्न योजनाओं एवं एजेंडों पर वार्ता की। वेबिनार में एकमुश्त दंड समाधान योजना का क्रियान्वयन, वृक्षारोपण-2022-23 के लक्ष्य के सापेक्ष कार्ययोजना आई0जी0आर0एस0 संबंधित प्रकरण अनधिकृत एवं ओवरलोडिंग वाहन के खिलाफ प्रवर्तन की कार्यवाही की समीक्षा, डी0एल0 बनवाने की दिशा में और अधिक पारदर्शिता एवं सरलता लाने के प्रयास इत्यादि विषयों पर विस्तार से वार्ता की। परिवहन मंत्री ने कहा कि परिवहन विभाग के अधिकारी एकमुश्त शास्ति समा

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत हेतु ऑनलाईन आवेदन की प्रक्रिया आज से शुरू आवेदन विभागीय पोर्टलhttp:fèèymis.upsdc.gov.in पर किया जा सकता है -डा0 संजय कुमार निषाद

चित्र
  लखनऊ: 01 जुलाई, 2022         उत्तर प्रदेश के मत्स्य विकास कैबिनेट मंत्री डॉ0 संजय कुमार निषाद ने आज यहां मुख्य भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष से प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के पोर्टल पर आवेदन आमंत्रित किये जाने की प्रक्रिया का शुभारम्भ किया। उन्होंने प्रदेश के सभी मण्डलीय एवं जनपदीय मत्स्य अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि योजना के प्रचार-प्रसार के लिए अपने मण्डलों में 01 जुलाई से 15 जुलाई, 2022 तक प्रवास करें और मत्स्य विभाग के पोर्टल पर अधिक से अधिक लाभार्थियों को आवेदन करायें। जिला स्तरीय शिक्षण कार्यक्रम में मत्स्य पालकों और कृषकों को जागरूक करें, ताकि बड़ी संख्या में लोग वित्तीय सहायता प्राप्त कर योजना का लाभ उठा सकें। इस अवसर पर आयोजित प्रेसवार्ता में में डा0 निषाद ने कहा कि प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत वर्ष 2022-23 के लिए विभिन्न मात्स्यिकी परियोजनाओं अन्तर्गत विभागीय आनलाइन पोर्टल ीजजचरूध्ध्लिउपेण्नचेकबण्हवअण् पद पर आवेदन आज से प्रारम्भ कर दिया गया है। आवेदन करने की तिथि 01 जुलाई से 15 जुलाई है। योजनान्तर्गत परियोजनाओं का विवरण, इकाई लागत आवेदन करने की प्रक्

पशुओं को उत्तम गुणवत्तायुक्त आहार देने से दुग्ध उत्पादन में होगी वृद्धि -धर्मपाल सिंह

चित्र
 लखनऊ: 01 जुलाई, 2022 उत्तर प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने आज यहां पार्क रोड स्थित पीसीडीएफ के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में अम्बेडकर नगर की पराग पशु आहार निर्माणशाला द्वारा नवनियुक्त 27 डीलरों को प्रमाण पत्र वितरित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर एवं आजमगढ़ मण्डल के लिए अम्बेडकर नगर की पशु आहार निर्माणशाला द्वारा निर्मित पराग पशु आहार किसानों एवं पशुपालकों के पशुओं के लिए आवश्यक पोषक तत्वों के पूर्ति के लिए सक्षम होगा, जिससे दुग्ध उत्पादन में वृद्धि होगी। वितरण समारोह में दुग्ध विकास मंत्री ने पराग पशु आहार की गुणवत्ता, दुधारू पशुओं के लिए उसकी आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए, बताया कि पराग पशुआहार निर्माणशाला अम्बेडकर नगर पूर्णतया आटोमेटिक, कम्प्यूटराईज्ड प्लांट है, जिसकी क्षमता 100 मी0टन प्रतिदिन की है। जो आधुनिक रूप से कम्प्यूटराइज्ड तरीके से संचालित किया जा सकता है। श्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि दुग्ध विकास एवं पशुधन कृषि का एक महत्वपूर्ण अंग है। जिसमें पशुओं को उत्तम गुणवत्ता का पशुआहार देने से दुग्ध उत्पादन में वृद्ध

काम के प्रति व्यक्तिगत लगाव और जुड़ाव होगा, तो अभूतपूर्व परिवर्तन नजर आएगा - मनोज कुमार सिंह

लखनऊ: 01 जुलाई, 2022 उत्तर प्रदेश की राज्य मंत्री ग्राम्य विकास, श्रीमती विजय लक्ष्मी गौतम ने कहा कि प्रदेश में रोड कनेक्टिविटी को बेहतर बनाकर गांवों को और अधिक सशक्त और मजबूत बनाना है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के सभी नए ऊर्जावान और पुराने अनुभवी अभियंता व ठेकेदार मिलकर  आपसी सामंजस्य  व तारतम्य बनाकर कार्य करें, तो उत्तर प्रदेश तरक्की के रास्ते पर और बहुत तेजी से आगे बढ़ेगा। श्रीमती विजयलक्ष्मी गौतम आज इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के जुपिटर हाल में आयोजित ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के स्वर्ण जयंती समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहीं थी। उन्होंने इस अवसर पर विभाग की ई- स्मारिका  का विमोचन भी किया। उन्होंने कहा कि ग्रामीण सड़कें इस तरह से बनाएं कि ग्रामीण हाईवे नजर आएं। उन्होंने कहा सभी अभियन्तागण पूरी इच्छाशक्ति के साथ काम करें और  सड़कों के निर्माण कार्य  के क्षेत्र में नए आयाम स्थापित करें ।उन्होंने कहा  मां ०प्रधानमंत्री व मा० मुख्यमंत्री के निर्देशन में गांवों  को सशक्त बनाने के बहुआयामी प्रयास किए जा रहे हैं ।इसी कड़ी में ग्रामीण सड़कों को , विशेषकर प्रधानमंत्री ग्राम सड़क

एकमुश्त समाधान योजना उपभोक्ता हित में 15 जुलाई तक बढ़ी

योजनान्तर्गत 30 जून तक 30 लाख उपभोक्ताओं ने लिया लाभ, ब्याज में 654 करोड़ रुपये की मिली राहत  उपभोक्ताओं से ऊर्जा विभाग को 2242 करोड़ रुपये के बकाये राजस्व की प्राप्ति ऊर्जा मंत्री ने ओटीएस योजना की सफलता पर मुख्यमंत्री जी का आभार व्यक्त किया, सभी अधिकारियों, कर्मचारियों एवं उपभोक्ताओं को धन्यवाद दिया श्री ए0के0शर्मा ने ओटीएस योजना का शीघ्र लाभ लेने के लिए बकायेदार विद्युत उपभोक्ताओं से अपील की है लखनऊ: 01 जुलाई, 2022 प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री जी की पहल पर प्रदेश सरकार ने बकायेदार उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के समस्त विद्युत भार वाले घरेलू (एल0एम0वी0-1) एवं निजी नलकूप 4(एल0एम0वी0-5) तथा 05 कि0वा0 विद्युत भार के वाणिज्यक (एम0एम0वी0-2) श्रेणियों के उपभोक्ताओं को अप्रैल, 2022 तक के विलम्बित अधिभार (ब्याज)/सरचार्ज में शत-प्रतिशत छूट प्रदान करते हुए एकमुश्त समाधान योजना (ओटीएस) लागू की थी, जिसकी अवधि को उपभोक्ताओं के हित में और उन्हें राहत प्रदान करने के लिये 30 जून से बढ़ाकर 15 जुलाई तक कर दिया गया है। उन्होने कहा कि योजना का