संदेश

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल श्री मनोज सिन्हा ने श्रीनगर के राजभवन में जम्मू-कश्मीर के प्रसिद्ध कवि और प्रसिद्ध साहित्यकार सतीश विमल की दो पुस्तकों का विमोचन किया

चित्र
श्रीनगर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल श्री मनोज सिन्हा ने आज श्रीनगर के राजभवन में जम्मू-कश्मीर के प्रसिद्ध कवि और प्रसिद्ध साहित्यकार सतीश विमल की दो पुस्तकों का विमोचन किया। हिंदी में कविता की इन दो पुस्तकों में सतीश विमल द्वारा संपादित और संकलित पिछले तीन दशकों के दौरान लिखी गई चुनिंदा हिंदी कविताओं का संकलन शामिल है, जिसका शीर्षक 'देहात में कविता' है। यह संकलन पिछले तीन दशकों से जम्मू-कश्मीर में सांप्रदायिक घृणा, हिंसा और रक्तपात के साहित्यिक प्रतिरोध का प्रतिबिंब है। उपराज्यपाल ने विमल के बेस्टसेलर हिंदी काव्य संग्रह 'खोये हुए पृथ्वी' के दूसरे संस्करण का भी विमोचन किया। इस कविता संग्रह का पहले प्रकाशन के एक साल के भीतर ही छह भारतीय भाषाओं में अनुवाद हो गया। हाल ही में इसका फारसी में भी अनुवाद किया गया है। श्री मनोज सिन्हा ने सतीश विमल को उनके साहित्यिक योगदान के लिए बधाई दी और विभिन्न विधाओं में उनके हिंदी, कश्मीरी और उर्दू लेखन के कई अनुवादों के माध्यम से भारत और उससे आगे की भाषाओं में स्वीकार किए जाने के लिए बधाई दी। उपराज्यपाल ने विमल को उनके अधिक उत्पादक साहित्यिक

श्री जितिन प्रसाद की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश राज्य सड़क निधि प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न

चित्र
  विश्व की सर्वश्रेष्ठ तकनीकी का प्रयोग करते हुये सड़कों के निर्माण कराया जाय - जितिन प्रसाद सड़क निर्माण में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुये निर्धारित समय-सीमा में मानकों का शत-प्रतिशत पालन करते हुये कराया जाय सड़कों की गुणवत्ता की जॉच हेतु मुख्यालय स्तर पर गठित टीम द्वारा सड़कों का औचक निरीक्षण कराया जाय लखनऊ, 10 मई 2022 उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण विभाग मंत्री तथा उत्तर प्रदेश राज्य सड़क निधि प्रबंधन समिति के अध्यक्ष श्री जितिन प्रसाद की अध्यक्षता में आज यहां लोक निर्माण विभाग मुख्यालय स्थित सभागार में उत्तर प्रदेश राज्य सड़क निधि प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई। श्री जितिन प्रसाद ने बैठक में राज्य सड़क निधि प्रबन्धन समिति के सदस्यों के सुझावों को प्राप्त करने के उपरान्त विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि विश्व की सर्वश्रेष्ठ तकनीक का प्रयोग करते हुये सड़कों का निर्माण कराया जाय। उन्होने कहा कि सड़कों का निर्माण गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुये निर्धारित समय-सीमा में मानकों का शत-प्रतिशत पालन करते हुये कराया जाय। निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जायेगा

चाईल्ड आर्टिस्ट रिषभ शर्मा अब लवस्टोरी फ़िल्म,'नाराधम'के हीरो बने

चित्र
  रिषभ   शर्मा   की   बतौर   हीरो   पहली   फ़िल्म ,' नाराधम '  का   मुहूर्त   के   साथ   शूटिंग   शुरू चाईल्ड   आर्टिस्ट   रिषभ   शर्मा अब   लवस्टोरी   फ़िल्म ,' नाराधम ' के   हीरो   बने          ' आर   आर   मीडिया '  के   बैनर   तले   लवस्टोरी   फ़िल्म ' नाराधम ' का   मुहूर्त   के   साथ   शूटिंग   की   शुरुआत   खानवेल   रिसोर्ट , सिलवासा   में   किया   गया।   जिसका   निर्माण   प्रीति   शर्मा   द्वारा   किया   जा   रहा   है   और   इसके   निर्देशक   अजय   बी   सहा   है।इसके   कैमरामैन   कमल   है।   इसके   मुख्य   कलाकार   रिषभ   शर्मा ,  रोशनी   व   अन्य   हैं।           रिषभ   शर्मा   ने   अपना   कैरियर   बतौर   चाईल्ड   आर्टिस्ट   शुरू   किया   था।   उन्होंने   फिल्म  ' वीर ' में   सलमान   खान   के   बचपन   का ,  फ़िल्म  ' आओ   विश   करे '  में   आफताब   शिवदासानी   के   बचपन   का   तथा   धारावाहिक  ' मिसेस   तेंदुलकर ',' जय   जय   जय   बजरंगबली '  जैसे   कई   हिट   फिल्मों   में   व   धारावाहिकों   में   काम   करने   के   बा

विश्व दिव्यांग दिवस‘‘ के अवसर पर पात्र दिव्यांगजनों हेतु विभिन्न श्रेणी के राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु आवेदन आमंत्रित किये गये

आगामी 15 जुलाई, 2022 तक कर सकते हैं आवदेन                                                      ‘‘विश्व दिव्यांग दिवस‘‘ के अवसर पर दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु आवदेन पत्र आमंत्रित किये गये है। इच्छुक व्यक्तियों व संस्थाओं के राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु आवेदन जिलाधिकारी की संस्तुति से आगामी 15 जुलाई, 2022 तक निदेशालय दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग, कक्ष संख्या-1010, दसम् तल, इन्दिरा भवन, अशोक मार्ग, हजरतगंज, लखनऊ में प्राप्त किये जायेंगे। यह जानकारी दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के निदेशक, श्री सत्य प्रकाश पटेल ने देते हुए बताया कि प्रत्येक वर्ष 03 दिसम्बर को उत्कृष्ट दिव्यांग व्यक्तियों एवं निःशक्तता के क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्थाओं एवं उनके सेवायोजकों से विभिन्न श्रेणी के राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु आवेदन भारत सरकार, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग, नई दिल्ली को प्रेषित किये जाने हेतु आमंत्रित किये जाते हैं।

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी को सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते फटकार लगाई और इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को जारी रखते हुए गैर जमानती वारंट रद्द करने से मना कर दिया

चित्र
  दिल्ली  नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी की बढ़ी मुश्किलें ।  हाईकोर्ट के आदेश के अनुपालन में ऋतु को हिरासत में ले कर अदालत में  पेश करेगी पुलिस ।  नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने ऋतु माहेश्वरी को गैर जमानती वारंट मामले में कड़ी फटकार लगाते हुए कोई भी राहत देने से इंकार कर दिया है।  इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश होने के लिये शीर्ष अदालत द्वारा वारंट जारी करने के फैसले के खिलाफ  ऋतु महेश्वरी सुप्रीम कोर्ट पहुँची थीं। शुक्रवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। ऋतु महेश्वरी इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गई थीं। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए ऋतु महेश्वरी को फटकार लगाई और इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को जारी रखते हुए गैर जमानती वारंट रद्द करने से मना कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगर आप हाईकोर्ट के आदेश का पालन नहीं करती हैं तो आपको इसका नतीजा झेलना होगा।  सुप्रीम कोर्ट में ऋतु महेश्वरी के वकील ने मामले की जल्द सुनवाई की मांग क

जल्द ही अपनी पुस्तक प्रकाशित करने की योजना बना रहे हैं?

चित्र
आज हम आपके मन में उठ रहे ज्वलंत सवालों के जवाब देंगे। क्या मेरी किताब बेस्ट-सेलर बन जाएगी? हर महत्वाकांक्षी लेखक बेस्टसेलिंग लेखक बनना चाहता है। लेकिन, बेस्ट-सेलर क्या है? ज्यादातर देशों में, एक फिक्शन किताब जिसकी 10,000 से अधिक प्रतियां बिकती हैं और एक गैर-फिक्शन किताब जो 3,000 से अधिक प्रतियां बेचती है, उसे बेस्ट-सेलर कहा जाता है।  हालाँकि, ये संख्याएँ प्रत्येक बाज़ार के लिए विशिष्ट प्रकार की पुस्तक के आधार पर भिन्न हो सकती हैं। उदाहरण के लिए, कड़ी प्रतिस्पर्धा के कारण कविता की किताबों की संख्या बहुत कम है और रोमांटिक फिक्शन के लिए बहुत अधिक है। तो, एक बेस्टसेलिंग लेखक कैसे बनता है? क्या यह संभव भी है? बेशक। आज के अधिकांश सफल लेखकों ने अपनी पुस्तक का स्व-प्रकाशन शुरू किया और फिर बेस्टसेलर सूची में अपने तरीके से काम किया। आपकी पुस्तक की सफलता केवल आपके द्वारा लिखी गई सामग्री पर निर्भर नहीं करती है। खेल में बहुत अधिक कारक हैं। यहाँ उनमें से कुछ हैं। #1: सामग्री और स्थिति निर्धारण सामग्री राजा है और आप इसे जानते हैं। लेकिन, आप जो नहीं जानते होंगे, वह यह है कि जिस तरह से आप इसे प्रस्तुत

बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षाएं 16 से 28 फरवरी, 2023 तथा बोर्ड परीक्षा मार्च 2023 में आयोजित होगी - श्रीमती गुलाब देवी

 माध्यमिक शिक्षा का शैक्षणिक सत्र 2022-23 हेतु एकेडमिक कैलेण्डर जारी वर्तमान सत्र में कक्षा 09 एवं 10 की लिखित परीक्षा प्रश्न पत्र के नये प्रारूप के आधार पर होगी, प्रश्न पत्र में दो खण्ड होंगे राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत विद्यालयों में कैरियर काउंसिलिंग का आयोजन विद्यार्थियों के सतत मूल्यांकन के लिए प्रथम बार सत्र में पांच मासिक परीक्षाओं का आयोजन, जिसमें तीन बार बहुविकल्पीय तथा दो बार वर्णनात्मक परीक्षाएं होंगी अपने स्वर्णिम इतिहास की जानकारी और राष्ट्रीय मूल्यों का अधिक विकास करने के लिए आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में विद्यालयों में विभिन्न गतिविधियों का होगा आयोजन सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु ड्रॉप आउट दर को कम करने तथा शत-प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करने के लिये स्कूल चलो अभियान- माध्यमिक शिक्षा का आयोजन किया जायेगा डिजीटल शिक्षण को बढ़ावा देने के लिए समस्त विद्यालय अपनी वेबसाइट तथा पंजीकृत विद्यार्थियों की ई-मेल आईडी मई माह तक बनवाना सुनिश्चित करेंगे यूनिवर्सिटी रेडी कार्यक्रम के अन्तर्गत अध्ययन हेतु छात्रों को भविष्य की सम्भावनाओं से परिचित कराने और प्रवेश पर

प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा उपभोक्ता संरक्षण एवं बांट माप मंत्री श्री आशीष पटेल ने प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के जन्मदिन के अवसर पर उनके लखनऊ स्थित आवास पर जाकर उन्हें शुभकामनाएं दी

चित्र
  प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा उपभोक्ता संरक्षण एवं बांट माप मंत्री श्री आशीष पटेल ने  प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के जन्मदिन के अवसर पर उनके लखनऊ स्थित आवास पर जाकर उन्हें शुभकामनाएं दी

स्वर्गीय वरिष्ठ पत्रकार सुभाष मिश्र को उनकी प्रथम पुण्यतिथि पर दी गयी श्रद्धांजलि

चित्र
बापू भवन चौराहे पर स्थित सहकारिता भवन के सभागार हाल में स्वर्गीय सुभाष मिश्र के प्रथम पुण्यतिथि के अवसर पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इसमें हृदय नारायण दीक्षित (पूर्व विधानसभा अध्यक्ष)विशिष्ट अतिथि एवं दयाशंकर सिंह(परिवहन मंत्री) मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए ।इस अवसर पर उनके साथ बिताए हुए अपने यादगार क्षणों को याद करते हुए श्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि स्वर्गीय सुभाष जी मेरे बहुत ही करीबी लोगों में से एक थे। जिनका आशीर्वाद मैं अक्सर प्राप्त करता रहता था ,लेकिन गत वर्ष आज ही के दिन कोरोना महामारी के कारण उनकी असामयिक मृत्यु हो जाने से हमें और पत्रकारिता जगत को अपार क्षति हुई। उन्होंने कहा कि वह एक जिंदादिल और खुशमिजाज इंसान थे और पत्रकारिता की जगत में निर्भीकता से कार्य करते थे। सामने वाला कोई भी हो उसकी अच्छाइयों और कमियों को लिखने से वे कभी गुरेज नहीं करते थे । इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित हृदय नारायण दीक्षित ने उनके साथ अपने यादगार क्षणों को याद किया और उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया। उन्होंने कहा कि सुभाष मेरे छोटे भाई जैसा था और प्रत्येक सुख दुख में उपस्थित

प्रभारी राज्यमंत्री बाराबंकी धर्मवीर प्रजापति ने विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की

चित्र
उत्तर प्रदेश के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कारागार एवं होमगार्ड एवं बाराबंकी जनपद के प्रभारी मंत्री श्री धर्मवीर प्रजापति की अध्यक्षता में जनपद बाराबंकी में विकास कार्यो, अपराध एवं कानून व्यवस्था, महिला संबंधी अपराधों/पास्को एक्ट के अन्तर्गत पंजीकृत मामलों में विवेचना तथा अभियोजन की प्रगति, अनुसूचित जाति/जनजाति के व्यक्तियों के विरुद्ध अपराधों के क्रम में पंजीकृत मामलों की विवेचना तथा अभियोजन की प्रगति एवं गैंगस्टर अधिनियम के अन्तर्गत चिन्हित अपराधी/माफियाओं के विरुद्ध कार्यवाही की प्रगति की समीक्षा की गयी।  राज्यमंत्री ने मलिन बस्ती गांधी नगर में साफ-सफाई की स्थिति देखी, साथ ही उन्होंने कहा कि साफ-सफाई निरंतर बने रहने से बीमारियों से बचा जा सकता है। बैठक के दौरान घरौनी योजना, आईजीआरएस पोर्टल, निर्माण परियोजनाएं, कानून व्यवस्था, सामूहिक विवाह सहित अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बिचौलियों को खत्म करना जरूरी है। जनता योजनाओं का सीधा लाभ प्राप्त करें। उन्होने कहा कि किसी भी कल्याणकारी योजना से पात्र व्यक्ति वंचित न रहने पाये। सभी प