डीएम आशुतोष निरंजन ने मत्स्य विभाग के कार्यो की समीक्षा कर आवंटित 86 तालाब के पट्टो की सूची उपलब्ध कराने का दिया निर्देश




बस्ती । जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने मत्स्य विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया है कि आवंटित 86 तालाब के पट्टो की सूची उपलब्ध कराये। सुनिश्चित करे कि सभी तालाबों में मत्स्य पालन का कार्य हो। समीक्षा में उन्होने पाया कि सभी पट्टों का अनुबंध अभी तक नही हुआ है, जिसके कारण इन्हें विभाग की योजनाओं का लाभ भी नही मिल पाया है।
जिलाधिकारी ने कहा कि सभी पट्टों का अनुबंध कराने के लिए संबंधित तहसील को निर्देशित किया जा चुका है। मत्स्य विभाग वहाॅ से सूची प्राप्त इन्हें विभाग की योजनओं का लाभ दिलाये। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि वर्ष 2014 से तालाबों के पट्टे की सूची पूर्ण विवरण के साथ उपलब्ध कराये।
समीक्षा में उन्होने पाया कि मत्स्य विकास निगम की हैंचरी से बीज वितरण का कार्य मत्स्य कार्यालय तथा हैंचरी से किया जाता है। इसकी रसीद मैनुअल काटी जाती है। कार्यालय द्वारा जमा कराये गये पैसे हैचरी को भेजे जाते है। जिलाधिकारी ने इस व्यवस्था पर असंतोष व्यक्त करते हुए निर्देशित किया है कि धनराशि चालान से जमा कराने की व्यवस्था करें। चालान की रसीद देने पर निगम बीज प्रदान करेंगा।
उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि तालाब की मिट्टी की जाॅच कराकर रिपोर्ट संबंधित मत्स्य पालक को उपलब्ध करायी जाय तथा इसमें बतायी गयी कमियों को दूर करने के उपाय भी मत्स्य विभाग उसे दें। मत्स्य विभाग के कर्मचारी इस आशय की रिपोर्ट देंगे कि मत्स्य पालक द्वारा उनके दिये गये सुझाव के अनुसार कार्यवाही कर ली गयी है।
उन्होने यह भी निर्देश दिया कि किसान के्रडिट कार्ड की सुविधा मत्स्य पालको को भी उपलब्ध करायी जाय। 169 वार्षिक लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 14 कार्ड बने है। निरीक्षण के दौरान परियोजना निदेशक आरपी सिंह, उपायुक्त मनरेगा इन्द्रपाल सिंह भी उपस्थित रहे।





 







 








इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,