कलेक्ट्रेट भवन पर जिलाधिकारी डा0 उज्ज्वल कुमार द्वारा राष्ट्रीय ध्वज को फहराया तथा सलामी दी ,राष्ट्रगान का भावपूर्ण गायन किया


महराजगंज, राष्ट्रीय पावन पर्व 15 अगस्त स्वतत्रंता दिवस के अवसर पर कलेक्ट्रेट भवन पर जिलाधिकारी डा0 उज्ज्वल कुमार द्वारा राष्ट्रीय ध्वज को फहराया तथा सलामी दी ,राष्ट्रगान का भावपूर्ण गायन किया गया । जिला जज न्यायालय भवन,पुलिस अधीक्षक पुलिस कार्यालय व मुख्य विकास अधिकारी ने भी विकास भवन में राष्ट्रीय झण्डा फहराया । 
जिलाधिकारी डा0कुमार ने आजादी के लिए अपने को समर्पित करने वाले  शहीदो के प्रति श्रर्द्धासुमन अर्पित करते हुए, पावन पर्व स्वतंत्रता दिवस की जनपद वासियो के लिए हार्दिक शुभकामनायें भी दी ।
जिलाधिकारी डा0 उज्ज्वल कुमार ने कलेक्ट्रेट मीटिगं हाल में अपने सम्बोधन में कहा कि हम सब सबका साथ,सबका विकास एंव विशवास के अन्तर्गत गौरव के साथ आज 74 वां स्वतंत्रता दिवस को सौहार्द्ध पूर्वक मना रहे है । कोरोना एक राष्ट्रीय आपदा के रूप में सामने है कोरोना वायरस की हमने सबसे ज्यादा टेस्टिगं/सैम्पलिगं कर कोरोना वायरस को नियत्रंण में किया हुआ है । पहली कोरोना चाज हेतु सेम्पल पुना भेजा गया था,और आज अपने जिले में सैम्पलिगं की चाज कर आधे घण्टे में ही रिपोर्ट मिल जा रही है हम आत्म निरर्भता से कार्य  करें तो वह दिन दुर नही जब हम सबसे आगे होगे । पहले संसाधन की कमी थी आज उर्पयुक्त  संसाधन है जिससे हम दुनिया में सबसे आगे अग्रणी होते जा रहे है। स्वास्थ्य डाक्टर,स्टाफ व सफाई कर्मियो के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि इनके आगे बढ़ कर कार्य से कोरोना मरीजो की देखभाल व सफाई ब्यवस्था को सुदृढ़ किया जा रहा है । उन्होने कहा कि अपने को सुरक्षित रखते हुए अन्य नागरिक व साथियो को सुरक्षित रखे, यही हमारा कर्तब्य व कर्म होना चाहिए । आज हम अन्य देशो से विकास में आगे है,यही हमारी आत्म निर्भरता दर्शाति है हम अपने दायित्वो को सही ढंग व ईमानदारी से निर्वहन करें,जिससे गरीब व पिछडे ब्यक्तियो को समाज में आगे आने का अवसर मिल सके यही सबसे महत्वपूर्ण कार्य है । उन्होने यह भी कहा कि हमारी आजादी के बीर सपूतो के सपनो को विकास के रूप में सजाना ही भारत को आगे बढा़ने का कर्तब्य होगा ।
इस अवसर पर अपर उप जिलाधिकारी अविनाश कुमार,डिप्टी एस डी एम,वरिष्ठ कोषाधिकारी शालीग्राम,डिप्टी आर एम ओ अखिलेश सिहं ने सम्बोधन किया व अरूण मौर्य,बृजेश यादव गनर ने राष्ट्रीय गीत गाया तथा संचालन श्रीनाथधर दुबे ने किया ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,