लोधी क्षत्रिय महासभा ने दीपजलाकर मनाई वीरांगना अवंतिबाई लोधी जयंती

ललितपुर।  अखिल भारतीय लोधी क्षत्रिय महासभा, यूथ बिग्रेड व विमुक्त घुमंतू जनजाति विकास परिषद , लक्ष्य, मानव अधिकार अपराध नियंत्रण शाखा ललितपुर के संयुक्त तत्वाधान में  समस्त पदाधिकारियों द्वारा रविवार की शाम 7:30 बजे जनपद के प्रत्येक गांव में घर घर दीपप्रजलन कर देश की महानायिका वीरांगना महारानी अवंतिबाई लोधी की जयंती मनाई गई। इसके चलते महासभा के महामंत्री पत्रकार धनीराम सिंह राजपूत करौंदा ने अपने परिवार के साथ सामाजिक दूरियों को दृष्टिगत रखते हुए दीप जलाकर महारानी साहिबा की जयंती मनाई, और उनके आव्हान पर समस्त  जनपद वाशियों ने अपने-अपने घर दीपप्रजलन कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए, वहीं  विकासखण्ड विरधा के ग्राम करमरा के अलावा तमाम गांव में विमुक्त घुमंतू जनजाति विकास परिषद के जिलाध्यक्ष एड मुकेश कुमार सिंह करमरा व एड शशिकांत सिंह ने अपने-अपने घर पर दीपप्रजलन कर महारानी साहिबा की जयंती मनाई, और उनके नेतृत्व में समस्त विरधा क्षेत्र वाशियों ने अपने-अपने घर पर दीप जलाकर जयंती मनाई। महरौनी क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सैदपुर एड जगभान सिंह राजपूत ने जयंती के उपलक्ष्य में दीप जलाए, और उनके आव्हान पर ग्रामीणों ने दीप जलाए। विकासखण्ड मड़ावरा क्षेत्र अंतर्गत महासभा के जिलाध्यक्ष शिक्षक भरत सिंह पहाडीकला व ब्लॉक अध्यक्ष निर्मल सिंह भौंती ने  अपने-अपने घर पर दीपप्रजलन किया, और इनके नेतृत्व में समस्त मड़ावरा क्षेत्र वाशियों ने घर-घर दीप जलाकर वीरांगना को याद किया। विकासखण्ड जखौरा क्षेत्र अंतर्गत समस्त गांव में ब्लॉक अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह गोरा के आव्हान पर सभी क्षेत्र वाशियों ने घर घर दीपजलाकर महारानी को याद किया। विकासखण्ड बार क्षेत्र में ब्लॉक अध्यक्ष जयहिंद सिंह राजपूत द्वारा अपने घर के अलावा सभी क्षेत्र में घर घर दीप जलवाए। विकासखण्ड तालबेहट क्षेत्र में नरेंद्र सिंह ने अपने घर के अलावा समस्त क्षेत्र में दीपप्रजलन कराकर देश की गौरव 1857 की वीरगाथा की जयंती के समस्त जनपद में ऐतिहासिक मिशाल प्रस्तुत की है। बता दें कि अखिल भारतीय लोधी क्षत्रिय महासभा की अपील पर जनपद में गांव-गांव घर-घर दीपजलाकर महारानी साहिबा की जयंती मनाई गई, और उनके हजारों अनुयायियों ने दीपप्रजलन की फ़ेसबुक व सोशल मीडिया के माध्यम से फोटो व वीडियो को साझा किया गया। जिसके चलते सोशल मीडिया के माध्यम से महासभा व विमुक्त घुमंतू जनजाति विकास परिषद के जिलाध्यक्ष ने सभी का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इस देश को आजादी दिलाने में भारत की प्रथम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की वीरांगना अवंतिबाई लोधी की अहिम भूमिका रही।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,