किसानों का उत्पीडऩ किसी दशा में बर्दाश्त नहीं : तिलक यादव






सपाईयों ने ग्रामीण अंचलों में जाकर सुनी किसानों की समस्यायें*


ललितपुर। बीना रिफाइनरी से बिछाई जा रही पाइप लाइन किसानों को भारी नुकसान पहुंचा रही है। कस्बा बानपुर से लगे ग्रामीण अंचलों में किसानों के खेतों में से बिना मुआवजा के जमीन खोदकर पाइप लाइन बिछाये जाने का मुखर बिरोध किया जा रहा है। इस सम्बन्ध में बुधवार को समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष तिलक यादव ने किसानों के साथ मौके पर जाकर कार्य को रूकवाने की रणनीति तय करते हुये पहले किसानों को मुआवजा दिलाने की मांग उठायी गयी। उन्होंने कहा कि सर्वप्रथम किसानों की जो भी जमीन ली जा रही है, उसका मुआवजा उन्हें दिया जाये, इसके बाद पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जाये। 

 बुधवार को जनपद के दर्जन भर से अधिक ग्रामीण अंचलों में भ्रमण करते हुये पहुंचे सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव ने जगह-जगह ग्रामीणों व किसानों की समस्याओं को सुना। मौके से शिकायतों से सम्बन्धित अधिकारियों से दूरभाष पर वार्ता कर समस्याओं के शीघ्र निस्तारण के लिए कहा गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कोई भी किसान या ग्रामीण परेशान न हो, इसके लिए समाजवादी पार्टी प्रयासरत है। उन्होंने ग्राम गुगरवारा, भारौनी, दैलवारा, गंगचारी, बानौनी, दरौनी, पाह, दिदौरा, सुनवाहा, ऊमरी, अजनौरा, उदया, बूटी, छिल्ला, बिल्ला, कुआतला आदि ग्रामीण अंचलों में पहुंच कर समस्याओं को सुना। इस दौरान पूर्व विधायक फेरनलाल अहिरवार, अमर सिंह, दशरथ लम्बरदार, रमेश सिंह, सुरेन्द्र पाल सिंह, महेन्द्र एड., अशोक साहू, भान सिंह, गनेश रजक आदि मौजूद रहे।

सपा की सदस्यता ग्रहण की

भ्रमण के दौरान घनश्याम, माखन सिंह, विशन सिंह, धर्म कुशवाहा, रामसेवक प्रजापति, गुवन्दा अहिरवार, हरीराम अहिरवार, सुखलाल अहिरवार, सीताराम, नन्हेराजा, शुभराजा, सोबरन, गोलू अहिरवार, भूरे राय, हरप्रसाद, दयाराम, पहलवान धानक, धुल्ली अहिरवार, रजनीश सेन, रमू प्रजापति, भैय्यन अहिरवार, लाखन सिंह, सुजान सिंह, रावराजा, भगवत, सतीश, निर्मल अहिरवार, झगडू प्रजापति, घसीटे अहिरवार, रामचरन नामदेव, हरदयाल सहरिया, अशोक, सुनील, जग्गू अहिरवार, प्रीतम अहिरवार, राकेश अहिरवार, कल्लू अहिरवार, यादवेन्द्र, दुर्ग सिंह, जीवन, दीपेन्द्र, सुकपाल, प्रीतम अहिरवार, जुगन, कोमल अहिरवार, आजाद, युवराज आदि पार्टी में शामिल हुये।


 

 




 

 



 



 



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या