ग्राम अमझरा स्थित गौवंश आश्रय स्थल का औचक निरीक्षण

ललितपुर आयुक्त झाॅसी मण्डल, झाॅसी श्री सुभाष चन्द्र शर्मा द्वारा ग्राम अमझरा स्थित गौवंश आश्रय स्थल का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान आयुक्त महोदय द्वारा गौशाला में गौवंशों के लिए उपलब्ध भूसा, पानी की व्यवस्था, चिकित्सा व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। यहां पर पशु चिकित्सक ने बताया कि यहां पर 24 पशु बीमार हैं, जिनका उपचार किया जा रहा है। यहां पर दवाएं पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। गौशाला में पशुओं की देखरेख के लिए 26 कर्मचारी तैनात हैं। मौके पर गौशाला प्रभारी द्वारा बताया गया कि गौशाला में 2249 गौवंश संरक्षित हैं। मौके पर उपलब्ध भूसे का अवलोकन करने पर भूसा में लोच कम पाया गया, जिस पर भूसे में चोकर मिलाने के निर्देश दिये गए। गौशाला में स्थापित बोर सोलर लाइट से चलता हुआ पाया गया तथा असहाय एवं बीमार पशुओं को पक्षियों से सुरक्षित रखने के लिए देशी तकनीक का प्रबंध किया गया है। मौके पर आयुक्त महोदय ने गाय के नवजात बच्चों को गाय के दूध के साथ भोजन में गुड़ तथा चोकर भी दिये जाने के निर्देश दिये। गौशाला में गौवंश को ठण्ड से बचाव के लिए गौशाला के बड़े-बड़े शेडों में तरपाल बंधी हुई पायी गई। इस अवसर पर गौशाला में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा आयुक्त महोदय को अवगत कराया गया कि उनका पिछले वर्ष का 02 माह की मजदूरी का भुगतान लंबित है, इस पर आयुक्त महोदय द्वारा खण्ड विकास अधिकारी मड़ावरा को सम्बंधित श्रमिकों का लंबित भुगतान शीघ्रता से पूर्ण कराने के निर्देश दिये गए। इसके साथ ही गौशाला में संरक्षित पशुओं का सत्यापन एवं गौशाला में शौचालय निर्माण कराने हेतु निर्देशित किया गया। मौके पर जिलाधिकारी, ललितपुर श्री अन्नावि दिनेशकुमार, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र, खण्ड विकास अधिकारी मड़ावरा सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या