डीएम दीपक मीणा ने पीएचसी का निरीक्षण

अभय त्रिपाठी
सिद्धार्थनगर जिले में पड़े अधूरे प्रसव केन्द्र व पीएचसी की बदहाल व्यवस्था पर बिफरे डीएम ने घोसियारी बाजार स्थित प्रसव हेतु महिलाओं के शिकायत पर प्राथमिक विद्यालय घोसियारी के बगल एक दशक से अधूरा पडे़ प्रसव का निरीक्षण किये, जो पूरी तरह से झाड़ियों से घिरा व खंड़हर स्थिति मे देख सीएचसी अधीक्षक डा.एस.के.भारती को अबिलम्ब पूर्ण कराने का निर्देश दिए। इसके उपरांत घोसियारी स्थित पीएचसी पर पहुचे जहां पर पहले से एकत्र ग्रामीणों ने एक स्वर मे डा.रोहित वर्मा के अस्पताल मे अनुपस्थित की बात उजागर की इसे संज्ञान मे लेकर करीब आधे घंटे तक फटकार लगाये,जब ओपीडी के बारे पूछताछ किये और एक माह का समय देते हुए, कहे कि आदत मे सुधार लाओ नही कार्यवाई निश्चित की जायेगी। जब बात ओपीडी की आई तो डा.ने बताया कि प्रतिदिन बीस की संख्या मे लोग इलाज कराने आते है,अस्पताल मे मरम्मत कार्य मानक विहीन हो रहा था,जिसे देख काफी नाराजगी जाहिर किये,अस्पताल मे बिजली,पानी,रास्ते के समस्या से रूबरू कराए, इस दौरान एसडीएम जगप्रवेश,बीडीओ सुशील कुमार पाण्डेय,सीडीपीओ अभय प्रताप सिंह,प्रभारी एडीओ महमूद अली,सचिव रमेश यादव,शुभम् मणि त्रिपाठी,संदीप सिंह सहित तमाम अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहें। बाइट:-1-बब्लू मिश्रा-----प्रधान रियूना घोशियारी बाजार बाइट:-2- सुनील कुमार----मास्टर

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या