योगी सरकार की पहल, अयोध्या धाम में खत्म होगी पार्किंग और लॉजिंग की समस्या

 





 

पार्किंग के साथ ही श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए मिलेगी डॉरमेट्री की भी सुविधा 





अयोध्या विकास प्राधिकरण और नगर निगम की ओर से शुरू की गईं 5 मल्टीस्टोरी पार्किंग





 

फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट, बैंक्वेट हॉल के साथ ही ओपेन रूफटॉप जैसे हैं फीचर्स  


अयोध्या, 19 जनवरी। अयोध्या धाम में 22 जनवरी को होने जा रहे श्रीरामलला विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा से पहले ही अवध में उत्सव का माहौल है। हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंच चुके हैं। लोकल के साथ ही नेशनल और इंटरनेशनल मीडिया का जमावड़ा लगा हुआ है। अनुमान है कि प्राण प्रतिष्ठा के बाद लाखों की संख्या में राम भक्त पूरे देश और दुनिया से यहां दर्शनों के लिए आएंगे। ऐसे में अयोध्या धाम में लोगों के रुकने और गाड़ियों की पार्किंग की व्यापक स्तर पर तैयारी की गई है। अयोध्या विकास प्राधिकरण और अयोध्या नगर निगम द्वारा मल्टी स्टोरी पार्किंग बनाई गई है, जहां पार्किंग के साथ-साथ फूड कोर्ट, डॉरमेट्री और बैंक्वेट हॉल की सुविधा भी दी गई है। इस तरह की 5 पार्किंग अब तक शुरू हो चुकी हैं। 


सुखद अनुभव लेकर वापस जाएंगे श्रद्धालु 

अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और नगर आयुक्त विशाल सिंह के अनुसार प्राण प्रतिष्ठा के बाद बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मल्टीस्टोरी पार्किंग कॉम्प्लेक्स बनकर तैयार हैं। इनमें से 4 बिल्डिंग्स विकास प्राधिकरण ने तो एक नगर निगम ने बनाई है। हाल ही में एक पार्किंग कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन किया गया है। इन मल्टीस्टोरी कॉम्प्लेक्स में पार्किंग के साथ-साथ अन्य सुविधाएं भी हैं। यहां बड़ी संख्या में लोगों के रुकने के लिए डॉरमेट्री की व्यवस्था की गई है। श्रद्धालुओं के लिए फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट और बैंक्वेट हॉल की भी व्यवस्था की गई है। आने वाले दिनों में इन व्यवस्थाओं में और भी सुधार किए जाएंगे, ताकि अयोध्या धाम आने वाले श्रद्धालु यहां से सुखद अनुभव लेकर वापस जाएं। 


ओपेन रूफटॉप की भी व्यवस्था 

उन्होंने बताया कि अमानीगंज के त्रिवेणी सदन में संचालित कॉम्प्लेक्स में पार्किंग के साथ-साथ दुकानें, डॉरमेट्री, रेस्टोरेंट की सुविधा है। यहां 37 फोर व्हीलर और 50 टू व्हीलर्स की पार्किंग की जा सकेगी। इसके अतिरिक्त फर्स्ट और सेकेंड फ्लोर पर कुल 85 दुकानें स्थापित हैं, जबकि थर्ड फ्लोर पर डॉरमेट्री के 166 बेड लगाए गए हैं तो फोर्थ फ्लोर पर रेस्टोरेंट और किचन की व्यवस्था की गई है। वहीं फिफ्थ फ्लोर पर ओपेन टेरेस रूफटॉप है, जहां पर बैठकर खाने-पीने का लुत्फ लिया जा सकता है। 


अरुंधति भवन में मिल रही सभी सुविधाएं

टेढ़ी बाजार स्थित अरुंधति भवन के नाम से दो मल्टी स्टोरी पार्किंग कॉम्प्लेक्स बनाए गए हैं। अरुंधति भवन वेस्ट 10700 स्क्वायर मीटर में स्थापित किया गया है। इसमें 3200 स्क्वायर मीटर में रेस्टोरेंट है तो वहीं 180 बेड्स की भी व्यवस्था है। इसके अतिरिक्त यहां 300 से अधिक कारों की पार्किंग की सुविधा है। वहीं 200 दोपहिया वाहन भी यहां पार्क किए जा सकते हैं। दूसरे कॉम्प्लेक्स को 23500 स्क्वायर मीटर में निर्मित किया गया है। यहां 328 बेड्स की सुविधा है, जबकि 76 फोर व्हीलर और 132 टू व्हीलर्स को पार्क किया जा सकता है। यहां 110000 स्क्वायर मीटर में रेस्टोरेंट, 6000 स्क्वायर मीटर में बैंक्वेट हॉल और 4000 स्क्वायर मीटर में ओपेन रेस्टोरेंट एरिया है। 


लक्ष्मण कुंज में पार्क हो सकेंगे हजारों वाहन

अयोध्या कलेक्ट्रेट के पास स्थित लक्ष्मण कुंज मल्टी स्टोरी पार्किंग का संचालन नगर निगम द्वारा किया जा रहा है। इस कॉम्प्लेक्स में 1000 आउटडोर पार्किंग की सुविधा है, जबकि लोअर ग्राउंड में भी पार्किंग की जा सकेगी। 80 के करीब टू व्हीलर्स को भी पार्क किया जा सकेगा। अपर ग्राउंड फ्लोर पर 72 टू व्हीलर और 26 फोर व्हीलर, फर्स्ट, सेकेंड, थर्ड और फोर्थ फ्लोर पर 40-40 टू व्हीलर और 44-44 फोर व्हीलर की व्यवस्था है। इसके अलावा टेरेस पर भी 65 फोर व्हीलर को पार्क किया जा सकता है। सेवेंथ फ्लोर पर रूफटॉप रेस्टोरेंट बनाया गया है। वहीं बेसमेंट में 8 दुकानें, ग्राउंड फ्लोर पर एक कैंटीन, 15 दुकानें और 10 फूड कोर्ट बनाए गए हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,